Symptoms of Rabies in a dog, कैसे पहचाने 1 मिनट में

Symptoms of Rabies in a dog

Symptoms of Rabies in a dog
Symptoms of Rabies in a dog

कुत्ता ज्यादातर लोग घर में पालते हैं आज हम आपको Symptoms of Rabies in a dog बताने जा रहे हैं क्योंकि अगर आपके डॉग मेंऔर एक बार रेबीज की पुष्टि हो गयी तो फिर उसका मतलब मौत और सिर्फ मौत है, इसके साथ आप और आपका परिवार और यहाँ तक अगर आपके घर में कोई और भी पेट्स हैं तो वह भी खतरे में आ जाते हैं इसलिए आपको इसके बारे में पूरी जानकारी बहुत ही ज्यादा ज़रूरी है।

सबसे पहली बात तो आप अपने दिमाग में ये पहले बैठा लें कि रेबीज का परिणाम 100 प्रतिशत घातक है इसकी आखिरी मंजिल सिर्फ मौत है और वह भी बहुत तड़फती हुई मौत। अगर आपने इस बात को अपने दिमाग में बैठा लिया तो आप कभी भी अपने कुत्ते के लिए रेबीज के टीकाकरण के लिए लापरवाही नहीं करेंगे।

Symptoms of Rabies in a dog आपको जानना इसलिए भी ज़रूरी हो जाता है इससे आप समय से पहचान करके भले ही अपने कुत्ते को न बचा पाएं लेकिन खुद अपने आप और अपने दुसरे पेट्स को ज़रूर बचा लेंगे। रेबीज से संक्रमित कुत्ते के काटने से रेबीज दुसरे जानवर या मनुष्य में भी पहुँच जाता है।

क्या है कैनिन रेबीज

Symptoms of Rabies in a dog
Symptoms of Rabies in a dog

कैनिन रेबीज एक प्रकार का वायरस है और ये बहुत खतरनाक वायरस है कुत्ते में पहुंचकर ये कुत्ते केंद्रीय तंत्रिका तंत्र, रीढ़ की हड्डी और दिमाग को प्रवाभित करता है। सबसे पहले रेबीज वायरस कुत्ते के ऊतकों में प्रवेश करता है और फिर वह उसके तंत्रिका तंत्र में पहुँच जाता है और उसके बाद कुत्ते की लार ग्रंथियों में पहुँचता है जिससे कुत्ता मुंह से लार टपकाना शुरू कर देता है।

Also read- अगर खरगोश पालना है घर में, तो पहले ले लें पूरी जानकारी

रेबीज वायरस को अगर अपनी संख्या बढ़ाने के लिए कोई शरीर न मिले चाहे वह कोई पालतू जानवर हो या जंगली या फिर कोई मनुष्य तो यह 24 घंटे के अंदर मर जाता है। अगर हम बात करें यह किस-किस देश में पाया जाता है तो हम आपको बता दें यह हर देश में पाया जाता है और यह वायरस सालाना 60000 हज़ार लोगों को मार देता है।

कैसे फैलता है रेबीज

रेबीज को फ़ैलाने वाले जंगली जानवर जैसे लोमड़ी,गीदड़ , चमगादड़ और रैकून मुख्य रूप से होते हैं क्योंकि इनका टीकाकरण नहीं होता है इसलिए जब भी कोई पालतू जानवर इनके संपर्क में किसी भी तरह से आ जाता है तो यह वायरस घरों में भी आ जाता है कुत्ते इस वायरस के सबसे अच्छे वाहक होते हैं।

Also read- कछुआ कौन सा और कैसे पालें, पूरी जानकारी

ये वायरस जानवर के आँख, नाक और मुंह के द्वारा या काटने पर किसी दुसरे जानवर या इंसान में भी पहुँच जाता है। अगर कहीं कोई घाव है तो भी ये उस घाव के द्वारा शरीर में प्रवेश कर जाता है।

कुत्ते में रेबीज को कैसे पहचाने

Symptoms of Rabies in a dog रेबीज कुत्ते के शरीर में पहुँचने के बाद कम से कम उसके लक्षण प्रकट होने में 10 दिन लग जाते हैं लेकिन कभी कभी दो या तीन महीने भी लग जाते हैं और कभी कभी तो ये समय एक साल तक भी चला जाता है लेकिन ऐसा बहुत ही कम होता है सामान्यता 10 दिन में लक्षण दिखाई देने शुरू हो जाते हैं।कुत्ते में रेबीज के लक्षणों को हम तीन चरणों में देख सकते हैं।

Symptoms of Rabies in a dog
Symptoms of Rabies in a dog

पहला चरण Symptoms of Rabies in a dog

ये कुत्ते में रेबीज का प्रारंभिक चरण है इसमें आप अगर कुत्ते पर ध्यान दें तो आपको कुछ लक्षण दिखाई देंगे लेकिन इन लक्षणों को ध्यान से देखना होगा।

  • 1- आप अगर ध्यान देंगे तो कुत्ते में बैचेनी बढ़ जायेगी कुत्ता ऐसा व्यबहार करेगा जैसे उसे कोई डर है या उसे कुछ बुरा होने कि उम्मीद है।

  • 2- आपका कुत्ता छिपकर रहना शुरू कर देगा किसी के सामने वह आना पसंद नहीं करेगा आप देखेंगे कि अब अचानक वह शर्माना शुरू कर देता है और अकेला छिप कर ज्यादा रहना पसंद कर रहा है।

  • 3 – कुत्ता अब हिंसक होना शुरू हो जाएगा और वह काटना शुरू कर देगा। अगर वायरस उसके तंत्रिका तंत्र तक पहुँच चूका है तो वह निर्जीव वस्तुओं पर भी भोंकना और काटना शुरू कर देगा लेकिन शुरुआत में उसके व्यबहार में उग्रता आनी शुरू हो जायेगी जो लगातार बढ़ती चली जायेगी।

दूसरा चरण Symptoms of Rabies in a dog

  • 1- कुत्ते में उग्रता बहुत ज्यादा बढ़ जायेगी और यह पागलपन तक पहुँच जायेगी क्योंकि वायरस ने अब कुत्ते के दिमाग को नुक्सान पहुँचाना शुरू कर दिया है। उग्रता इतनी होगी कि अब कुत्ता अपने मालिक पर भी हमला कर सकता है।

  • 2- अब आप जब कुत्ते कि आँखें देखेंगे तो आपको कुत्ते कि पुतलियाँ फैली हुई दिखाई देंगे क्योंकि कुत्ता अब भ्र्म का शिकार हो चुका है। उसकी आँखें देखकर आपको लगेगा कि जैसे कुत्ते ने कुछ डरावना देख लिया है।

  • 3- अब आपका कुत्ता अपने शरीर पर भी नियंत्रण खोना शुरू कर देगा और आप उसे अंगों को कापता हुआ देखेंगे क्योंकि वायरस ने कुत्ते कि मान-पेशों पर असर डालना शुरू कर दिया है।

  • 4- अब कुत्ते में भय कि कमी भी आपको दिखाई देगी अब वह सिर्फ आक्रमक रहेगा दर उसके पास बहुत कम होगा क्योंकि वायरस ने उसके मस्तिष्क में बदल सा बना दिया है जिससे उसके भाव समाप्त होने लगते हैं।

अंतिम चरण Symptoms of Rabies in a dog

Symptoms of Rabies in a dog
Symptoms of Rabies in a dog

यह अब इस रेबीज का और कुत्ते का भी आखिरी चरण है अब इस चरण में कुत्ते कि मौत ही बाकी है।

  • 1- अब कुत्ते में आंशिक रूप से लकवा आपको दिखाई देने लगेगा जो कुछ समय में ही पूरी तरह से शरीर के अंगों को अपनी गिरफ्त में लेना शुरू कर देगा। कुत्ते में कोमा कि स्तिथि भी सामने आ सकती है।

  • 2- कुत्ते के मुंह से पानी गिरना शुरू हो जाएगा तथा कुत्ते का जबड़ा भी नीचे लटकना शुरू कर देगा और कुत्ता न पानी पियेगा और न खाना खायेगा।

  • 3-ऐसा भी देखा गया है कि कभी कभी किसी कुत्ते में पहले चरण के बाद सीधे ही अंतिम चरण के लक्षण दिखाई देने लगें।

  • 4- कुत्ते में पहले दिन के लक्षण दिखाई देने के बाद मात्र ७ से ८ दिन में कुत्ते कि मौत हो जाती है क्योंकि तीनों चरण का समय केवल दो या तीन दिन ही होता है।

कुत्ते को रेबीज से कैसे बचाएं

Symptoms of Rabies in a dog
Symptoms of Rabies in a dog

Symptoms of Rabies in a dog कुत्ते को रेबीज से बचाने के लिए आपको कुछ सावधानियां बरतनी होंगी जैसे कुत्ते की उम्र तीन महीने की होती है तब उसे रेबीज का टीका लगता है जो उसे एक साल के लिए रेबीज से सुरक्षा देता है। एक साल हो जाने पर कुत्ते को फिर से बूस्टर डोज़ दी जाती है इसका ध्यान ज़रूर रखें और इसमें कभी भी लापरवाही न करें। कुत्ते को जब भी कहीं बाहर ले जाएँ उसके गले में पत्ता ज़रूर होना चाहिए जिससे वह हर समय आपके नियंत्रण में रहे। कुत्ते को अकेला कभी बाहर न जाने दें।

दोस्तों, आपको कछुआ कौन सा और कैसे पालें पोस्ट कैसी लगी हमें कमैंट्स के द्वारा ज़रूर बताएं और हमारे फेसबुक पेज को फॉलो करना न भूलें। धन्यवाद,

FAQs

कुत्तों में कौन सा रेबीज वायरस पाया जाता है ?

Ans- कुत्तों में पाया जाने वाला रेबीज वायरस का नाम कैनिन वायरस है।

क्या कुत्तों में रेबीज की रोकथाम के लिए सिर्फ एक बार ही रेबीज का टीका लगता है ?

Ans- कुत्तों में तीन महीने की उम्र में एक बार ही रेबीज का टीका लगता है उसके बाद प्रत्येक एक साल बाद टीके का बूस्टर डोज़ दिया जाता है।

क्या कुत्ते में रेबीज की पुष्टि हो जाने के बाद उसका इलाज किया जा सकता है ?

Ans- कुत्ते में एक बार रेबीज की पुष्टि हो जाने के बाद उसका इलाज संभव नहीं है उसकी मौत निश्चित है आप केवल उससे अपने आपको संक्रमित होने से बचा सकते हैं।

Symptoms of Rabies in a dog क्या हैं ?

Ans- Symptoms of Rabies in a dog के तीन चरण हैं। तीनों चरणों के लक्षण जानने के लिए कृपया पोस्ट को ध्यान से पूरा पढ़ें।

क्या रेबीज केवल कुत्तों में ही पाया जाता है ?

Ans- नहीं, रेबीज केवल कुत्तों में ही नहीं पाया जाता है बल्कि और भी जानवरों में पाया जाता है यहाँ तक की यह इंसानों को भी संक्रमित कर देता है जिसका अंत सिर्फ मौत ही होता है।

रेबीज से दुनिया में कितनी मौत इंसानों की हो जाती है ?

Ans- रेबीज से दुनिया में सालाना लगभग 60000 इंसानों की मौत हो जाती है।

5/5 - (146 votes)

Leave a Comment